स्वच्छ भारत अभियान

greenindiaकहा जाता है की स्वछता घर में सुख समृद्धि लेकर आती है।  जहां स्वछता है, वहाँ लक्ष्मी का वास होता है।   जिसका शहर और देश स्वच्छ है, वहाँ स्वयं ईश्वर विद्यमान होते हैं।  मोदी जी का स्वच्छ भारत अभियान भी देश में हरयाली और तरक्की लेकर आये ये उम्मीद करता हूँ।

सवाल ये है की स्वछता कैसे लाइ जाए ? क्या सिर्फ घर और बाहर का कूड़ा साफ़ कर देने मात्र से स्वछता आ जाएगी ? क्या सिर्फ नदी नालों को साफ़ कर देने मात्र से हम स्वच्छ हो जाएंगे ? स्वच्छ वातावरण के साथ साथ स्वच्छ मन भी होना अनिवार्य है। मन की स्वछता सद विचारों से लाइ जा सकती है।

कल गांधी जी का जनम दिवस है और हम घर और बाहर की सफाई तो करेंगे ही लेकिन उसी के साथ साथ मिशन ग्रीन की कविताएँ गाकर मन को भी शुद्ध करेंगे। उम्मीद करता हूँ की शहर में हर दूकान  के आगे एक कूड़ा दान देखने को मिलेगा।  और आने वाले महीनों में हर एक किलो मीटर में एक शौचालय देखने को मिलेगा। केवल इतना ही नहीं, उम्मीद करता हूँ की दूकानदार polythene देना बंद कर देंगे और हम खरीदारी करने थैला लेकर जाएंगे।  यमुना में कूड़ा डालना बंद कर देंगे, पेड़ लगाना शुरू कर देंगे और वाहन का उपयोग कम कर देंगे।  गांधी जी की तरह सिर्फ पैदल ज्यादा चलेंगे।

पब्लिक प्लेस पर थूकना, मूत्र त्यागना और पालतू कुत्तों से मल करवाना बंद करना होगा।  अगर घर में कोई खराब चीज़ है तो ठीक करवाएंगे, पुराने केलिन्डर, बंद घड़ी उतार देंगे, नए केलिन्डर लगाएंगे। ईश्वर के पूजा स्थलों को साफ़ रखेंगे, अपने ऑफिस, अस्पताल, स्कूल और कॉलेज को साफ़ रखेंगे, बसों और ट्रेनों को साफ़ रखेंगे। हर कोने पर कूड़े दान लगाएंगे।

Tech Trends 2015 | From Greentech’s Bale

agile marketingMission green, path to prosperity begans with keeping ourselves as par with what’s new is happening in the city. So what’s new ? Is it Modi’s motivational comment against Al-quida. Or is it the news of more number of sting operations on Delhi police officials ?

Ok lets not talk about politics right now. Lets pick a topic that will turn most of us on. Yes … its mobile technologies. In the time when companies are really focussing on what is known as agile marketing of their products. I will talk about usage of agile marketing while promoting new mobility trends of 2015.

Having a responsive design won’t be considered as much of importance in 2015 as important is becoming responsive to social media changes. Top researchers of market says that we are stepping into the new world of 4th generation of internet speed ie more than 3 gb in villages and rural areas, more tools that will predict compatibility of new apps on various mobile platforms & architectures, more number of wearable mobile gadgets, more number of mobile controlled home and office appliances. So production of such hi tech apps and products would definitely require more efficient goto market statergies. Agile marketing would certainly be considered as a panacea in promoting products across various geographies.

Clinging to traditional approach won’t be helpful here, rather need of an hour is to understand methods adopted by brands like Oreo. You might be launching highly precise GIS application, or devices like Iphone 6 or Samsung note 4, but you still require prolific positioning of product in your goto marketing plans.

Tweet me back @puneet6565 if you have new tech trends in your greentech bale.

be a green human, be a glazy fire

think of krishna, enjoy this verse
nothing destroys, in this universe
rules of nature, we shall abide
give up the path where, illusions reside
neither are we creator, nor we are destroyer
be a green human, be a glazy fire

everything changes, form to form
human to soil, soil to worm
changes this day, changes this night
changes this black, changes this white
avoid the blabbing, never be a liar
be a green human, be a glazy fire

to each and every action, there is a reaction
echo comes back, just in a fraction
comes back the pain, comes back desire
comes back the cause, comes back satire
be a green human, be a glazy fire