Life with a SQL Guru

MySQL जो एक database  का सर्वर है जिंदगी को जीने के नए नए तरीके सीखाता है. अगर हम गुरु को एक database  सर्वर की तरह मानें तो पाएंगे की गुरु के पास जिंदगी को आनंदमय और आसान बनाने के लिए एक किताब है जिस किताब में उसने कई तरह की कहानीयआन लिखी हैं. ये कहानी (Stored Procedures ), जिंदगी के हर मोड़ पे हमारी मदद करती है और हम इश्वर के किसी भी अंश (Tables) और उसके विचारों (डाटा) को और अच्छी तरह समझ सकते हैं, उनको अलग अलग नज़रीय (Views) से देख सकते हैं, उनके विचारों को बदल सकते हैं( Manipulation).  किसी भी व्यक्ति या इश्वर के अंश के विचारों  को खोजना और समझना  मेरे लिए मुश्किल होता अगर उस कहानी को एक विभिन्न अंक नहीं दिया गया होता जिसको हम Primary Key कहते हैं. कहानी को खोजने वाला यह नंबर अगर दो बार इंडेक्स में मिल जाए तो यह नंबर कहानी को खोलने की मुख्य चाबी (Primary  Key) नहीं रह जाता. यह साधारण सूची (इंडेक्स) की तरह काम करता करने लगता है.  अगर कोई भी व्यक्ति या इश्वर का अंश(Table) किसी अन्य व्यक्ति के विचारों को समझना चाहता है तो उसको एक दिव्य चाबी (Foreign  Key) की जरूरत पड़ती है जो सामने खड़े हुए व्यक्ति के विभिन्न अंक तालिका को खोल के रख देती है और वो व्यक्ति हमारा दोस्त बन जाता है.

अगर मैं एक दिन में हज़ारों लोगों की सेवा करना चाहता हूँ तो ये कार्य मेरे लिए आसान नहीं होगा. इसको आसान बनाने के लिए और एक दिन में हज़ारों लोगों को सुखी बनाने के लिए मुघे अपने सामाजिक कार्यों की एक पर्ची (Transaction) तैयार करनी होगी जिसमे मैं अपने सेवा कार्यों का वर्णन कर दूँ.  फिर मैं इस पर्ची को इन्टरनेट पे १०० लोगों को दिखा सकता हूँ और वो सो लोग इस पर्ची का इस्तेमाल करके दस दस लोगों की सेवा कर सकते हैं, जिससे एक दिन में हज़ारों लोगों की सेवा संभव हो पाएगी. अगर सामने खड़ा हुआ व्यक्ति मेरी पर्ची का इन्स्तेमाल सही तरीके से कर लेता है तो सेवा पूर्ण (COMMIT) हो जाएगी और अगर पर्ची (Transaction  Lines) पे लिखा काम पूरा नहीं होता तो वो सेवा पूर्ण नहीं मानी जाएगी (ROLLBACK) और उसे दुबारा शुरू से पर्ची में लिखी lines को फोल्लो करना होगा. Mysql गुरु सारा हेर्बल products का प्रोदुक्टिओं, distribution  और संचालन आश्रम(InnoDB) में ही करते हैं, और इस कारण वो जयादा लोगों की सेवा कम समय में कर पाते हैं, क्योंकि उनको कहीं बहार जाकर समय नष्ट करने की जरूरत नहीं पड़ती.  लेकिन उनके पास MyISAM और Falcon जैसे आश्रम भी हैं जिनका  पता सभी भक्तों के पास है.जो भक्त Innodb आश्रम तक नहीं पहुँच पाते हैं वो MyISAM में सेवा करने में अपना भला समझते हैं. Falcon में कभी कोई नहीं जाता, और वो सुना पडा हुआ है. Innodb आश्रम से कोई भी सामान लेना आसान होता है क्योंकि वहां subah के waqt hi ताला लगा रहता है और baaki दिन वो khulaa रहता है. MyISAM में सामान जब तक पूरा नहीं आ जाता, ताला लगा रहता है और भक्तों को फिर किसी और सेण्टर(Slave  Database  Server ) पर जाना पड़ता है.

Mission Green Delhi Konsept

Mission Green Delhi has lot of expectations from  professionals and students who are working and studying in Delhi in any area. As we are on a mission to convert ourselves into green prosperous humans, we expect something from everybody reading this blog. We are professionals who are associated with some organization directly and indirectly and are working for it. So from today only we can try to start working differently with a new concept. The concept is to add “Mission Green Delhi Konsept” to each and every task we are performing. Suppose if i am working on software development i can develop it using functions such that i can save lot of memory while executing it on my hardware. If we are using colored monitors, we can ask our IT departments to low down the color quality of the monitor to save our eyes and power. If we are working in Marketing and Advertising domain, we can design our marketing campaigns and events keeping in mind the konsept of “Mission Green Delhi”. We can ask for a material that should not  effect our environment. If we are organizing some meetings than we can organize it with some green tea or vegetarian snacks. If possible we can organize meetings in open grounds rather than in conference halls.  Doing such type of meetings will surely effect everybody’s mind in a positive way.  If we are going for some sales meet we can keep green mobiles, green laptops or anything that can communicate “Mission Green Delhi” Konsept to the person whom we are meeting. If we are meeting someone today, lets inspire them to change their life into a green human. If i am going for a big meet i will surely carry some Green Objects, Clothes, Presentations and Thoughts with me to deliver something that can add green impact to the life of person i would be talking to. If i am working in hospital i can ask the canteen guy to avoid offering oily food to people and staff. If environment in Delhi is hot, we can avoid wearing uncomfortable business suites and shoes, rather we can do business meets with decent Indian clothes which will help us to focus on a business idea and implement it perfectly rather showing off fake business dresses in meetings that never suits to our Delhi weather. Instead of pointing out negatives from this post, try to grasp some positives. Try to think positive … Try to think perfect … Try to Think Right … Try to think Green … Thanks

What are you looking for ?


Your Email

Let us know your need

×
Connect with Us

Your Name (required)

Your Email (required)

Your Message

×
Subscribe

×
Translate »
Close